hamburgerIcon
login

SHOP BABY PRODUCTS

ADDED TO CART SUCCESSFULLY GO TO CART
  • Home arrow
  • Care for Baby arrow
  • रात में शिशु की नींद ना टूटे, उसके लिए आज़मायें ये टिप्स | Sound sleep tips for baby in Hindi arrow

In this Article

    रात में शिशु की नींद ना टूटे, उसके लिए आज़मायें ये टिप्स | Sound sleep tips for baby in Hindi

    Care for Baby

    रात में शिशु की नींद ना टूटे, उसके लिए आज़मायें ये टिप्स | Sound sleep tips for baby in Hindi

    10 May 2024 को अपडेट किया गया

    आपको सबसे पहले समझना होगा कि आखिर क्या वजह है कि शिशु रात को भोजन के लिए जाग रहा है. गौरतलब है कि छह महीने का होने से एक साल का होने तक शिशु रात को भोजन के लिए नहीं जागते. ऐसे में हो सकता है कि वे रात को स्तनपान के आदि हो गए हो और इसलिए जागते हो. यदि ऐसा है तो वे बस आपका साथ पाने के लिए जागते हैं और साथ मिलते ही सो जाते हैं. हाँ यदि वे सच में भूखे हैं तो जब तक उन्हें दूध नहीं मिलता वे वापस नहीं सो पाते. यदि उन्हें दांत आ रहे हैं या वे बीमार हैं तो भी वे ठीक से नहीं सो पाते. ऐसे में उन्हें स्तनपान करके अच्छा लगता है. इसके अलावा कई बार जब शिशु रात को जागता है और रोता है तो बाकियों की नींद खराब न करने के लिए आप उसे शांत करने हेतु स्तनपान करा देती हैं तो इससे शिशु को हर बार जागने पर स्तनपान करने की आदत पड़ जाती है. यहाँ ध्यान दें कि आपके बच्चे को सोने की आवश्यकता होती है और वह खुद को स्वयं सुला पाने में असमर्थ होता है. ऐसे में बच्चा इसलिए भी स्तनपान करता है कि उसे अच्छा लगता है और वह दोबारा सो जाता है.

    कई बार जब माँ काम पर जाना शुरू कर देती है तो बच्चा इसलिए भी रात को स्तनपान करना चाहता है ताकि दिन भर का माँ का अभाव भूल कर वह माँ से फिर जुड़ सकें. याद रखें कि शिशु को स्नेह, नजदीकी और आराम की बेहद दरकार होती है. ऐसे में हम आपको कुछ टिप्स दे रहे हैं जो अपना कर आप शिशु की रात में नींद टूटने से बचा सकते हैं.

    सोने के लिए आरामदायक माहौल तैयार करें

    • बाहर से आने वाले शोर और रौशनी को कम से कम करें ताकि शिशु सुकून से सो सकें. गर्मियों में कई बार शिशु इसलिए भी जागते हैं कि उन्हें प्यास लगती है, ऐसे में उन्हें कुछ जल पिलाएं और वापस सुला दें. ध्यान रखें कि ऐसा तब ही करें जब शिशु छह महीने से बड़ा हो और ठोस आहार शुरू कर चुका हो. उससे छोटे बच्चे को स्तनपान ही कराएं. यह भी ध्यान दें कि बेडरूम अधिक ठंडा या गर्म तो नहीं. बच्चे को हीटर, एसी या कूलर के सीधे संपर्क से दूर रखें.

    सोने के लिए समय निर्धारित करें

    • सोने का एक समय निर्धारित कर देने से बच्चा जब भी रात में जागता है वह दोबारा तुरंत सो जाता है. कोशिश करें कि शिशु को हर एक दिन एक ही समय पर मसाज देकर या लोरी सुनाकार या कहानी सुना कर सुला दें. सोने से पहले शिशु को तेज आवाज संगीत या तेज आवाज में बोलते लोगों के संपर्क में न आने दें.

    शाम को अतिरिक्त खिलाएं

    • अगर शाम को बच्चा भरे हुए पेट से सोता है तो वह रात को भूख की वजह से नहीं उठेगा. ऐसे में सोने से पहले उसे एक अच्छा स्तनपान करा दें. सुलाने से पहले अपनी उंगलियाँ उसके मसूड़ों पर फिरा दें और सीधे पालने में लेटा दें.

    उन्हें कोई प्यारा खिलौना दें

    • आप उन्हें कोई खिलौना या सिल्की ब्लेंकेट दे सकते हैं, जिसमें शिशु को आनंद आएं और वह बेहतर महसूस करते हुए सो जाएं. एक बेहतरीन बेबी रैपर में इन्वेस्ट करें और बेबी के लिए सॉफ्ट ब्लैंकेट्स भी आप खरीद सकती हैं.

    आदत खत्म कर दें

    • अगर बच्चा हमेशा रात में एक ही समय पर जाग जाता है तो यह आदत बदलने के लिए उसे उस समय के 15 मिनट पहले जगाएं और फिर थपकी देकर सुला दें. अगर वह जागता है तो उसे बताएं कि यह सोने का समय है, खाने का नहीं. अगर शिशु रोता है तो उसे थपकी देकर चुप करा दें. ऐसा हमेशा करने से वह रात को भोजन के लिए जागने की आदत छोड़ देगा. आप शिशु को वापस सुलाने में अपने घर वालों और पति की मदद भी ले सकती हैं. अगर फिर भी रात में शिशु स्तनपान के लिए बैचेन होता है तो उसके डॉक्टर से संपर्क करें.

    Baby Wrapper - Light Pink

    Baby Swaddling Wrapper | 4-in-1 All Season AC Blanket cum Sleeping Bag for Baby 0-6 Months

    ₹ 499

    4.4

    (4909)

    12579 Users bought

    Is this helpful?

    thumbs_upYes

    thumb_downNo

    Written by

    Ishmeet Kaur

    Ishmeet is an experienced content writer with a demonstrated history of working in the internet industry. She is skilled in Editing, Public Speaking, Blogging, Creative Writing, and Social Media.

    Read More

    Get baby's diet chart, and growth tips

    Download Mylo today!
    Download Mylo App

    RECENTLY PUBLISHED ARTICLES

    our most recent articles

    Mylo Logo

    Start Exploring

    wavewave
    About Us
    Mylo_logo

    At Mylo, we help young parents raise happy and healthy families with our innovative new-age solutions:

    • Mylo Care: Effective and science-backed personal care and wellness solutions for a joyful you.
    • Mylo Baby: Science-backed, gentle and effective personal care & hygiene range for your little one.
    • Mylo Community: Trusted and empathetic community of 10mn+ parents and experts.